डीएम अनुराग समझ गये बांदा "गंदगी का हैं टापू" : सफाई व्यवस्था "बेकाबू"!

 
00

विनोद मिश्रा
बांदा।
डीएम अनुराग शहर में गंदगी देख आश्चर्य में पड़ गये। सोचने को मजबूर हो गये की क्या यही हैं "स्वच्छ बांदा-सुंदर बांदा" ! दरअसल नवरात्रि के दृष्टिगत जिलाधिकारी ने शहर भ्रमण योजना बना डाली।दुर्गा प्रतिमाओं के विसर्जन रूट का निरीक्षण किया। गंदगी के ढेर देख हैरान रह गये। सोचने पर विवश हो गये की यह शहर हैं या कचड़े-गंदगी का टापू।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी के आवास के बगल में कूडे का ढेर लगा पाया गया। उस ढेर में गाय एवं सुअरो का विचरण था। सब्जी मण्डी के अन्दर एवं सब्जी मण्डी के आस-पास अत्यन्त गन्दगी। मण्डी के अन्दर आवारा जानवर का विचरण। मण्डी प्रशासक नगर मजिस्ट्रेट को निर्देशित किया  कि अभियान चलाकर पूरे परिसर की साफ-सफाई कराये।

मण्डी के अन्दर बालू का भण्डार  पाया गया। खनिज अधिकारी को को तत्काल  मुआयना कर  नियामानुसार निस्तारित करने के निर्देश दिये। भ्रमण के दौरान रामलीला मैदान चौक बाजार में सफाई नही मिली। राजकीय बालिका इण्टर काॅलेज के गेट के बगल में कूडे का ढेर एवं आवार जानवर पाये गये। जिलाधिकरी द्वारा अधिशाषी अधिकारी नगर पालिका को तत्काल सफाई को कहा।

पद्माकर चौराहे में काली देवी मन्दिर के बगल से निर्माणाधीन मकान में कचरे का ढेर पाया गया। इसी प्रकार डाॅ0 बन्सल अस्पताल गूलरनाका, शंकर गुरू चैराहा, बाकर गंज चैराहा,  डाॅकघर के बगल से गन्दगी का साम्राज्य मिला।
इसके बाद बस स्टेशन व मेन रोड फुटपाथ पर अत्यधिक गन्दगी पायी गयी, अशोक लाट चौराहे पर कूडे का ढेर मिला, क्योटरा अर्बन बैंक के सामने यही स्थिति थी।  जिलाधिकारी ने केन नदी विसर्जन स्थल भी देखा।निरीक्षण बेहद गन्दगी, घास-फूस एवं नदी के किनारे कूडे-कचरे का नजारा था। जिलाधिकरी ने नाराजगी जताई।अधिशाषी अधिकारी नगर पालिका बुद्धि प्रकाश से तत्काल अभियान चलाकर शहर में फैली गन्दगी  को हटाकर  शहर  साफ-सुथरा करने के निर्देश दिये। दुर्गा पण्डालों के आस-पास प्रतिदिन सफाई करायी जाए तथा कूडा उठावा को कहा।मूर्ति विसर्जन स्थल तक पूरे रास्ते की सफाई की जरूरत बताई।

फेसबुक पर हमसे जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें, साथ ही ताज़ा अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर हमें फॉलो करें।

From around the web