प्रखर देश भक्ति तेजस्वी समाजवादी विचारक थे डॉ लोहिया

 
00

मुरादाबाद।  जिला समाजवादी पार्टी कार्यालय सिविल लाइन में समाजवादी आंदोलन के पुरोधा समाजवादी चिन्तक डॉ रामनोहर लोहिया जी की पुण्यतिथि पर एक विचार गोष्ठी पुष्पांजली कार्यक्रम आयोजित किया गया जिसमें लोहिया जी के चित्र पर पुष्पाजंलि एवं नमन करते हुये। उनके कृतित्व व्यक्तित्व पर प्रकाश डालते हुए जिलाध्यक्ष डी पी यादव ने कहा अगर जयप्रकाश नारायण ने देश की राजनीति को स्वतंत्रता के बाद बदला तो वहीं राम मनोहर लोहिया ने देश की राजनीति में भावी बदलाव की बयार आजादी से पहले ही ला दी थी। अपनी प्रखर देशभक्ति और तेजस्‍वी समाजवादी विचारों के कारण वह अपने समर्थकों के साथ ही अपने विरोधियों के मध्‍य भी अपार सम्मान हासिल किया। स्वतंत्र भारत की राजनीति और चिंतन धारा पर जिन गिने-चुने लोगों के व्यक्तित्व का गहरा असर हुआ है, उनमें डॉ. राम मनोहर लोहिया और जयप्रकाश नारायण प्रमुख रहे हैं। भारत के स्वतंत्रता युद्ध के आखिरी दौर में दोनों की भूमिका बड़ी महत्वपूर्ण रही है। 

जिला महासचिव मुदस्सिर खान ने कहा देश की राजनीति में स्वतंत्रता आंदोलन के दौरान और स्वतंत्रता के बाद ऐसे कई नेता हुए जिन्होंने अपने दम पर शासन का रुख बदल दिया जिनमें से एक थे राममनोहर लोहिया। 

गोष्ठी पुष्पांजली कार्यक्रम में जिलाध्यक्ष डी पी यादव पूर्व विधायक हाजी यूसुफ अंसारी राजेश् कुमारी यादव मुदस्सिर खान राजकुमार प्रजापति अतहर हुसैन अंसारी मारूफ खान धर्मेन्द्र यादव विक्की चौधरी सौरभ कपूर शमीम अहमद लुकमान खान शुएब हसन पाशा लालू परवेज अरुण शर्मा हारून सैफी नरेश शर्मा मोहित गौड़ विनोद विकल जिगरी मलिक नवदीप जाटव तल्हा खान आशुतोष यादव संजीव दिवाकर सुनीता सिंह राजेश्वरी यादव सद्दाम मलिक थे। 

फेसबुक पर हमसे जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें, साथ ही ताज़ा अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर हमें फॉलो करें।

From around the web