धूम-धाम से मनी दीपावली

 
विनोद मिश्रा
बांदा।
दीपावली पर्व जिले में हर्षोल्लास से मनाया गया। शुभ मुहूर्त पर लक्ष्मी-गणेश के पूजन के साथ जिला रोशनी से जगमगा उठा।आधी रात बाद तक पटाखों की ध्वनि गूंजती रही।जेल के सलाखों के पीछे भी दीपावली मनाई गई। बंदियों ने खुद अपने हाथों से रंगोली व आकर्षक चित्रकारी की। पूजन के बाद एक दूसरे को बंदियों ने बधाई दी। बांदियों ने दीपक जलाकर खुशियां बांटती हैं।
मंडल कारागार में शनिवार को 1026 बंदी निरुद्ध रहे। इसमें 40 महिलाएं भी शामिल हैं। दीपावली को लेकर जेल प्रशासन ने अलग से पूजन सामाग्री से लेकर हर सामान की व्यवस्था की थी। इसके अलावा जिन बंदियों के घरों का पहले से पूजा का जो सामान भेजा गया था। वह भी बंदियों को अंदर बैरक तक पहुंचाया गया। जेल में कई पेंटर व चित्रकारी के हुनरमंद बंदी भी निरुद्ध हैं। उन्होंने बैरक व उसके बाहर हातों में कलाकृति बनाने की जिम्मेदारी निभाई। जेल में विशेष सफाई भी की गई थी। देरशाम पूजन के बाद वहां प्रसाद वितरित किया गया। जेल प्रशासन की ओर से खाने में बंदियों को पूड़ी-सब्जी व हलुवा खाने को दिया गया। बंदियों को अपने घरों की याद न आए। इसके लिए संगीत का कार्यक्रम भी आयोजित किया गया। डिप्टी जेलर प्रभाकांत पांडेय ने बताया कि जेल की ओर से बंदियों के लिए अलग से दीपक आदि की व्यवस्था की गई थी। बंदी रक्षकों की निगरानी में बंदियों ने दीपावली मनाई है। पटाखे आदि घातक सामाग्री के उपयोग आदि में खास प्रतिबंध रहा है।

From around the web