धन के खेल में खेल नहीं हुआ तो करोड़ों रुपये से मंडल में तैयार होंगे खिलाड़ी!

 
00

विनोद मिश्रा
बांदा।
धन के खेल में यदि खेल नहीं हुआ तो चित्रकूटधाम मंडल में अब खेल प्रतिभाएं उड़ान भर सकेगी। शासन ने मंडल के चारों जिलों बांदा, चित्रकूट, महोबा, हमीरपुर में परिषदीय विद्यालयों में खेल सामग्री खरीदने के लिए 3.41 करोड़ रुपये आवंटित किए हैं। प्रति विद्यालय जूनियर में दस हजार और प्राथमिक में पांच हजार रुपये में सामग्री खरीदी जाएगी। इसके लिए जिला स्तरीय समिति गठित होगी। शासन ने 30 नवंबर तक का समय दिया है।

चित्रकूटधाम मंडल में संचालित करीब 5697 उच्च प्राथमिक व प्राथमिक विद्यालयों संचालित हो रहे हैं। यहां अब छात्र-छात्राओं के खेलकूद के लिए सुविधाएं व संशाधन के इंतजाम होंगे। विद्यालयों में उपलब्ध खेल मैदान के अनुसार चारो जनपदों में खेल सामग्री खरीदी जाएगी। खेल सामग्री खरीदने के लिए विद्यालय स्तर पर प्रधानाध्यापक की अध्यक्षता में गठित चार सदस्यीय समिति अधिकृत होगी। डीएम जांच टीम गठित कर खरीदी गई खेल सामग्री का सत्यापन कराएंगे। खेल सामग्री की गुणवत्ता व उपयोगिता की जिम्मेदारी खंड शिक्षा अधिकारी की होगी। वह अपने क्षेत्र के कम से कम 25 प्रतिशत विद्यालयों का स्थलीय निरीक्षण कर सत्यापन करेंगे। इसके अलावा विद्यालयों में खरीदी गई सामग्री का प्रेरणा पोर्टल के माध्यम से ट्रैकिग की जाएगी। राज्य परियोजना निदेशक अनामिका सिंह ने बीएसए को जारी पत्र में कहा है कि विद्यालय स्तर पर निर्धारित समय सारिणी के मुताबिक खेलकूद गतिविधियां अनिवार्य रूप से कराई जाएं। खेलकूद प्रभारी शिक्षक की देखरेख में खेल समिति बनाई जाए। टीम तैयार कर इसे ब्लाक, जिला व मंडल स्तर पर प्रतियोगिताओं में प्रतिभाग कराएं। खेलकूद सामग्री खरीदकर 30 नवंबर तक रिपोर्ट देनी है।

 

फेसबुक पर हमसे जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें, साथ ही ताज़ा अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर हमें फॉलो करें।

From around the web