सदर विधायक प्रकाश की सक्रियता रंग लाई: अमन हत्या प्रकरण में आठ गिरफ्तार

 
00
विनोद मिश्रा
बांदा।
अमन हत्याकांड में प्रकाश दिवेदी कीअपराधियों की गिरफ्तारी के लिये लगातार सक्रियता आखिर रंग लाई।उन्होने कल अपर सचिवगृह को सीआईडी जांच के लिए पत्र सौंपा। ऐसा दबाव बनाया की क्राइम ब्रांच हमीरपुर की टीम ने आठ बाल आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया । जिला अस्पताल में सभी का मेडिकल कराने के बाद न्यायिक अभिरक्षा में भेज दिया गया। गिरफ्तारी लाश मिलने के 42वें दिन हुई। 
शहर कोतवाली के बंगालीपुरा निवासी भाजपा नेता संजय त्रिपाठी का छोटा बेटा अमन 11 अक्तूबर की दोपहर में लापता हो गया था। 13 अक्तूबर को उसकी लाश केन नदी में मिली। हत्याकांड को एक माह से ज्यादा गुजर जाने के बाद भी आरोपितों की गिरफ्तारी न होने से दुःखी संजय त्रिपाठी और उनकी पत्नी मधु 23 अक्तूबर को बेटे का अस्थि कलश लेकर अशोक लाट तिराहे पर धरने पर बैठ गए। 
इधर सदर विधायक प्रकाश दिवेदी नें सीबीआई जांच की मांग की। अनशन के तीसरे दिन क्राइम ब्रांच के सीओ विवेक यादव परिवार के पास पहुंचे और सभी आठ आरोपितों की गिरफ्तारी की जानकारी दी। सीओ के अनुसार, गैरइरादतन हत्या, साक्ष्य छिपाने, अपराध के लिए दुष्प्रेरण की धारा में आठ बाल आरोपितों को गिरफ्तार किया गया है। सभी को न्यायिक अभिरक्षा में भेज दिया गया। खबर लिखे जाने तक दंपति धरने पर बैठे रहे। 
शहर के बंगालीपुरा निवासी भाजपा कार्यकर्ता संजय त्रिपाठी के 14 वर्षीय बेटे अमन का शव कनवारा गांव के पास केन नदी में 11 अक्तूबर को मिला था। वह दोस्तों के साथ बर्थ-डे पार्टी में शामिल होने की बात कहकर घर से निकला था। 
12 अक्तूबर को पिता संजय ने शहर कोतवाली में हत्या की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। हालांकि पुलिस इसे डूबकर मरने की घटना बताती रही। अमन के माता-पिता की इस मांग पर भाजपा नेताओं ने भी सिफारिश करके पुलिस महानिरीक्षक से किसी अन्य जिले की पुलिस से जांच कराने को कहा था। इस पर महानिरीक्षक ने हमीरपुर पुलिस की क्राइम ब्रांच को जांच सौंप दी। जांच अभी चल रही है।
 

फेसबुक पर हमसे जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें, साथ ही ताज़ा अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर हमें फॉलो करें।

From around the web