दीपावली में स्ट्रीट वेंडर्स को योगी सरकार की बड़ी सौगात

 
yogi

कोरोना वायरस से उबरने के बाद सरकार छोटे व्यापारियों के रोजगार को बढ़ाने के लिए लगातार प्रयास कर रही है. इसी क्रम में अब योगी सरकार ने दिवाली को लेकर बड़ा फैसला लिया है, ताकि रेहड़ी-पटरी वालों की कमाई बढ़ाई जा सके. 

सरकार रेहड़ी-पटरी वालों के लिए दिवाली मेले का आयोजन करने जा रही है, जो 28 अक्टूबर से शुरू होकर दिवाली के दिन खत्म होगा। योगी सरकार ने इसकी जिम्मेदारी सभी जिला प्रशासन को दे दी है. मेले की पूरी व्यवस्था सुनिश्चित करना उनकी जिम्मेदारी होगी। इस संबंध में शासन की ओर से आदेश भी जारी कर दिए गए हैं।

दरअसल, इसके पीछे सरकार की मंशा है कि कोरोना काल में छोटे व्यापारी रेहड़ी-पटरी वालों का धंधा ठप हो गया है, अब जब दिवाली पर एक बार फिर से चकाचौंध नजर आ रही है तो उनके लिए इस मेले का आयोजन किया जा रहा है. स्टॉल लगाए जाएंगे। वह अपने उत्पादों को बेचकर कुछ पैसे जुटाने में सक्षम होंगे। ताकि उनका आगे का कारोबार भी ठीक से शुरू हो सके। 

इस मेले में रेहड़ी-पटरी वालों के लिए जिला प्रशासन द्वारा स्टॉल की व्यवस्था की जायेगी. जिसमें वे अपने उत्पाद बेच सकें। साथ ही मेले में खाने-पीने व झूले की भी व्यवस्था की जाएगी। इससे आम जनता इस मेले में भाग लेकर व्यापारियों से खरीदारी करेगी।

शासन की ओर से जारी आदेश में जिला प्रशासन को मेले के लिए आदेश जारी कर दिए गए हैं. जिसके अनुसार मेले के लिए स्थल चयन प्रक्रिया 16 अक्टूबर से शुरू होगी। मेले की व्यवस्था के लिए कमेटी का गठन किया जाएगा। जिसकी अध्यक्षता डीएम करेंगे। स्थानीय निकाय अधिकारी इसके सचिव होंगे। वहीं, एसएसपी, एसपी, सीएमओ, ईओ, जिला सूचना अधिकारी और डीएम द्वारा नामित एक अधिकारी इसके सदस्य होंगे.

फेसबुक पर हमसे जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें, साथ ही ताज़ा अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर हमें फॉलो करें।

From around the web